/कैसे हुआ Gangster Papla Gurjar लंगड़ा, उस रात की पूरी कहानी Jiya की जुबानी: Papla Gurjar: Ziya

कैसे हुआ Gangster Papla Gurjar लंगड़ा, उस रात की पूरी कहानी Jiya की जुबानी: Papla Gurjar: Ziya

राजस्थान का वो खुखर गैंगस्टर जिसका नाम सुनते ही अच्छे अच्छे लोगो के पसीने छुट जाते थे. जो एक नहीं बल्कि चार चार राज्यों की पुलिस लिस्ट में मोस्ट वांटेड था.  जिसका नाम था पपला गुर्जर. जो फिलहाल अभी अजमेर की हाई सिक्यूरिटी जेल में बंद है. पर हर किसी के जहन में ये सवाल आ रहा है की ऐसा क्या हुआ उस रात जिसकी वजह से पपला गुर्जर बैसाखियों की सहारे पर आ गया, व्हील चेयर तक की नौबत आ गई..

क्या पपला गुर्जर ने छत से छलांग लगा दी थी या फिर कुछ और है जिसकी वजह से पपला की ये हालत हुई. आज हम आपको बताएँगे की कैसे हुआ गैंगस्टर पपला गुर्जर लंगड़ा, उस रात की पूरी कहानी जिया की जुबानी.  

महाराष्ट्र के कोल्हापुर की रहने वाली एक लड़की की कहानी, जो पहले पति से धोखा मिलने के बाद हिम्मत नहीं हारी. डिवोर्स होने के बाद जीवन में आगे बढ़ने का फैसला लिया. जिम में लोगों को जिंदगी से लड़ने का हौसला लेते हुए ट्रेनिंग देने का काम करने लगी. उसने नहीं सोचा था कि जिंदगी में कभी उसकी किसी ऐसे शख्स से मुलाकात होगी, जिसके पीछे 4 राज्यों की पुलिस पड़ी हुई है. समय का चक्र ऐसा चला कि वह जिंदगी में अब तक के सबसे मुश्किल दौर में जा पहुंची. उसकी उम्मीदें अधिक थी तो हौसले भी कम नहीं थे. शादीशुदा पहली जिंदगी में धोखा मिलने के बाद भी उसने हिम्मत नहीं हारी. अपने आपको फिर से खड़ा किया और मजबूती से समाज से लड़ने के लिए तैयार किया.  

जिया खुली पंछी की तरह यह आसमान में उड़ना चाहती थी, बिना रोक-टोक जीवन जीना चाहती थी. इसलिए परिवार से दूर अकेली कोल्हापुर में रहती थी. अपने पैरों पर खड़ा होकर समाज में मुकाम हासिल करना चाहती थी, इसलिए लगातार मेहनत करती रही. 13 दिसंबर 2020 को कोल्हापुर की मार्शल आर्ट जिम में एक्सरसाइज करने के दौरान जिया की मुलाकात पपला गुर्जर से हुई. पपला गुर्जर ने जिया को उसका नाम मानसिंह उर्फ उदय बताया. जिया पपला गुर्जर की ट्रेनर थी और धीरे-धीरे दोनों के बीच नजदीकियां बढ़ीं. जिम में एक्सरसाइज करने के साथ दोनों हमेशा के लिए एक दूजे के होने की कसमे खा चुके थे. जिया ने मानसिंह को अपने जीवन का हर सच  बताया. अपनी स्कूल की पढ़ाई से लेकर परिवार की हर वो चीज बताई जो एक लड़की कभी किसी से शेयर नहीं करती.

इतना ही नहीं, जिया ने अपने परिवार को भी मान सिंह के बारे में बताया था. इस बीच दोनों ने साथ जीने-मरने की कसमें खाई.  पर कभी-कभी जिया को कुछ अजीब लगता, क्योंकि मानसिंह उर्फ़ पपला गुर्जर ने अपने जीवन का सच उसे छुपाया था.

वो दिन भर पूजा-पाठ करता था. हनुमान जी व काली माता की आराधना करता था. जिया नॉन वेजिटेरियन थी, लेकिन पपला वेजिटेरियन था. इसलिए दोनों के बर्तन भी अलग-अलग रहते थे. सब कुछ अच्छा चल रहा था पर इसी बीच वो काली रात आई जब 28 जनवरी 2021 को महाराष्ट्र के कोल्हापुर से पपला के साथ पुलिस ने जिया को गिरफ्तार किया था. पुलिस ने उनके घर का दरवाजा बाहर से बंद कर दिया था. उसके बाद दोनों को गिरफ्तार कर लिया. जिया को सबकुछ अजीब लग रहा था, क्योंकि उनके साथ कोई महिला पुलिसकर्मी नहीं थी. जिया को समझ नहीं आ रहा था कि यह क्या हो रहा है. उसके बाद पहले 7 दिन वो पुलिस कस्टडी में रही और फिर 4 फरवरी को कोर्ट ने जेल भेज दिया था. जिसके बाद करीब 2 महीने और 4 दिन वह जेल में रही.

13 दिसंबर 2020 को जिया पपला से मिली और 28 जनवरी 2021 को पपला के साथ पकड़ी गई. जिया ने बताया कि जिस रात वो पपला के किराए के मकान में थी, उसी रात करीब 12 बजे पुलिस पहुंची. जिस कमरे में हम थे, बाहर से कुंडी लगाकर पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया था. थोड़ी देर तक कुछ समझ नहीं आया. उसके बाद जिया को पहली बार पता चला कि पपला एक बड़ा अपराधी है. मैंने तब पहली बार उसका नाम पपला सुना था. मैं उसे मान के नाम से बुलाती थी. उस रात पपला छत से नहीं कूदा था. उसके पैर में कैसे चोट लगी ? यह बात मुझे नहीं पता. बीच में एयरपोर्ट पर पपला से मेरी मुलाकात हुई. उस दौरान वो लंगड़ा कर चल रहा था. मैंने उससे कहा कि तुम्हारे पैर में चोट कैसे लगी. इस पर उसने बताया कि पुलिस ने हथौड़े से वार किया है. जिया ने आगे कहा, ‘पपला के साथ पकड़े जाने का मुझे बहुत दुख हुआ. उस समय कोई लेडी पुलिस भी नहीं थी. मुझे डर लग रहा था. लेकिन, जेल में आने के बाद मैंने खुद को कंसन्ट्रेट किया. और किताबे पढने लगी जिससे उसका समय कट जाता था.

ये थी पपला गुर्जर के लंगड़ा के चलने के पीछे की कहानी. इससे पहले कई बार सुना और पढ़ा की पपला ने पुलिस को देखते ही तीन मंजिल उपर से छलांग लगा दी थी और इस वजह से उसके पाँव में लग गई थी पर किसे पता था की हकीकत तो कुछ और थी.

ये थी राजस्थान संवाद की एक ख़ास रिपोर्ट कैसी लगी ये रिपोर्ट आप हमे कमेंट करके बता सकते है और साथ ही ऐसी ही और अपडेटस के लिए आज ही सब्सक्राइब करे हमारे चैनल राजस्थान संवाद को.