/फूफा भतीजी को मिली प्यार करने की मौत की सज़ा

फूफा भतीजी को मिली प्यार करने की मौत की सज़ा

ये तो सब जानते है की प्यार अँधा होता है और प्यार की कोई जाती नहीं होती, लेकिन फिर भी हमारे समाज मैं प्यार करना इतना आसान नहीं है और इसकी सजा किस तरह दी जाती है प्यार करने वालो को वो भी किसी से नहीं छुपा , लेकिन कलियुग में प्यार की परिभाषा बदल गयी है ,अब प्यार करने वाले रिश्ते भी ताक पर रख कर प्यार कर बैठते है ,जी हां ऐसे ही मामले का ताज़ा उदाहरण सामने आया है जहा फूफा को भतीजी से प्यार हो गया और जब घर वालो को इनका रिश्ता मंजूर नहीं हुआ तो दोनों ने अपने ही हाथो अपनी जीवनलीला समाप्त कर ली ,राजस्थान के बाड़मेर जिले के गुडामालानी थाना के जुम्मा फकीर की बस्ती में एक लड़के और नाबालिग लड़की ने पेड़ से लटककर जान दे दी. दोनों का रिश्ता फूफा और भतीजी का था.

ऐसा माना जाता है कि दोनों एक दूसरे से प्यार करते थे. लेकिन परिवार इससे खफा था. इसलिए दोनों ने अपनी जिंदगी समाप्त कर दी. ढाणी से 2 किलोमीटर दूर जाकर पेड़ से लटक कर एक ही फंदे से दोनों ने आत्महत्या कर ली. बाड़मेर के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक नरपत सिंह ने कहा, ‘पुलिस को सूचना मिली कि जुम्मा फकीर बस्ती में पेड़ से लटककर लड़का-लड़की ने आत्महत्या की है. जिसके बाद पुलिस की टीम मौके पर पहुंची और दोनों के शव को ग्रामीणों की मदद से नीचे उतारा. उसके बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए गडरा के सरकारी अस्पताल में लाया गया है. प्रथम दृष्टया दोनों में प्रेम प्रसंग बताया जा रहा है. रिश्ते में दोनों फूफा और भतीजी लगते हैं. लड़के का नाम चांद आराम उम्र 24 साल बताई जा रही है. वहीं लड़की नाबालिग बताई जा रही है.’

बताया गया है कि चांद राम अपनी नाबालिग भतीजी को लेकर घर से भाग गया था. बाद में परिजन नाबालिग को इधर-उधर तलाशते रहे. लेकिन कोई भी सुराग नहीं मिला. बाद में गांव वालों ने दोनों को पेड़ से लटका हुआ देखा और इस बात की सूचना परिवार को दी. जिसके बाद परिवार के लोग मौके पर पहुंचे. ऐसा बताया जा रहा है कि प्रेम प्रसंग से दोनों परिवार के लोग नाखुश थे और इसी बात से दोनों खफा थे. इसी वजह से दोनों ने अपनी जिंदगी समाप्त कर ली. बाड़मेर के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक नरपत सिंह के अनुसार बाड़मेर जिले में पिछले कुछ दिनों से नजदीकी रिश्तेदारों के प्रेम प्रसंग के मामलों की वजह से आत्महत्या की घटना में एकाएक इजाफा हो गया है. जिसने पुलिस की चिंता को और बढ़ा दिया है.